Rahat Indori Shayri In Hindi Latest Collection 2022

1
964
love shayari

Rahat Indori Shayri In Hindi Latest Collection 2022

आज हम यहाँ पर आपको बताने वाले हैं Rahat Indori Shayri In Hindi के ज़बरदस्त कलेक्शन के बारे में। इतना ज्यादा दिल से लिखा हुआ पोस्ट है ये जो यकीनन आपके दिलों में छा जायेगा और आप ीा कलेक्शन को बुक मार्क करके ज़रूर रख लीजियेगा ताकि आप कोई भी अपडेट पोस्ट एकदम से पढ़ पाओ।

isse phle ki mera

meetha khwaab toot jaaye

isse phle ki ye zindagi

mujhse rooth jaaye 

chaliye jee lete hain

saath mein vo pal 

kyu naa us pal mein saari

rasmein or kasmein bhool jaaye

इससे पहले की मेरा मीठा ख्वाब टूट जाए 

इससे पहले की ये ज़िन्दगी मुझसे रूठ जाए 

जी लेते हैं साथ में वो पल 

क्यों ना उस पल में साड़ी रस्में कसमे भूल जाए 

यह भी पढ़े – Good Night Messages For Your Love 

इसको ज़रूर देख लेना – चेहरा बनेगा सूंदर और बेदाग़ 

baatein to apnepn ki hazaaro log karte hain hmse 

pr jo nibhaa paaye vahi sachcha dost hota hai 

बातें तो अपनेपन की हज़ारो लोग करते हैं हमसे 

पर जो निभा पाए वही सच्चा दोस्त होता है 

Rahat Indori Shayri In Hindi

ab to drd bhi hmaare sng

krta hai mastiyaan

lafz kaagaz par utar kar

krta hai shokhiyaan 

jb se dekha hai aapko

bhool gaye hm khud ko 

aapki mohabbat mein

karne lage shaayriyaan 

अब तो दर्द भी हमारे संग करता है मस्तियाँ 

लफ्ज़ भी कागज़ पर उतर कर करता है शोखियाँ 

जब से देखा है आपको भूल गए हम खुद को 

आपकी मोहब्बत में करने लगे शायरियाँ 

 

poori duniya se ladne ki

taakat hai agar tu sng hai 

jis din judaa ho jayegi tu

usi din haar jaunga main 

पूरी दुनिया से लड़ने की ताकत है

अगर तू संग है 

जिस दिन जुदा हो जायेगी तू

उसी दिन हार जाऊंगा मैं 

 

usne poocha mujhse jb main

tujhse pyaar nahi karti fir tu kyu karta hai 

maine kahaa ki mujhko

pyaar nibhaana hai mukaabla nahi karna 

उसने पुछा मुझसे जब मैं तुझसे 

प्यार नहीं करती फिर तू क्यों करता है 

मैंने कहा की मुझको प्यार निभाना है

मुकाबला नहीं करना 

Rahat Indori Shayri In Hindi

tumhaari har pasand ko apni chaahat bnaa lenge

tumhari muskuraahat ko dil ki raahat bnaa lenge

khuda se maangenge har pal khushiyan

or un khushiyon mein aapko dekhna apni aadat bnaa lenge

तुम्हारी हर पसंद को अपनी चाहत बना लेंगे 

तुम्हारी मुस्कराहट को दिल की राहत बना लेंगे 

खुदा से मांगेंगे हर पल खुशियाँ 

और उन खुशियों में आपको देखना

अपनी आदत बना लेंगे 

Rahat Indori Shayri In Hindi

ishq mein kb koi usool hota hai 

mehboob jaisa bhi ho kubool hota hai 

इश्क में कब कोई उसूल होता है 

महबूब जैसा भी हो क़ुबूल होता है 

 

dil ne kahaa dilbar ho tum

jaise hi hum tumse milenge 

apne khoye hue dil se milenge 

zamaana sa beet gaya lagta hai

aise bichde jaane kb milenge

tumhi se hai meri jaan meri taakat 

ek tumse milte hi sabse milenge

दिल ने कहा दिलबर हो तुम,

जैसे ही हम तुमसे मिलेंगे 

अपने खोये हुए दिल से मिलेंगे,

ज़माना सा बीत गया लगता है 

ऐसे बिछड़े जाने कब मिलेंगे 

तुमसे ही है मेरी जान मेरी ताकत,

एक तुमसे मिलते ही सबसे मिलेंगे

 

jb tu meri baat sunkar

mujhko paagal bolti hai naa 

tbhi lagta hai ki tu bhi sachi

mohabbat karti hai mujhse 

जब तू मेरी बात सुनकर मुझे पागल बोलती है ना 

तभी लगता है की तू भी सच्ची मोहब्बत करती है मुझसे 

Rahat Indori Shayri In Hindi

pagal se ho gaye hm tujhko

ek nazar dekh kar 

paagal hi to hu main jo

bevajah mohabbat karti hu tumse

पागल से हो गए हम तुझको एक नज़र देख कर 

पागल ही तो हु मैं जो बेवजह मोहब्बत करती हु तुमसे 

 

tere ishq kaa taste kitna meetha hoga 

jb tere sirf choo kar guzar jaane ka 

ehsaas hi itna meetha hai 

तेरे इश्क का टेस्ट कितना मीठा होगा 

जब तेरे सिर्फ छू कर गुज़र जाने का 

एहसास ही इतना मीठा है 

 

meri rooh mein is trha

samaaye hue ho tum 

ki pass raho yaa door

frk nahi padta mujhko 

मेरी रूह में इस तरह समाये हुए हो तुम 

की पास रहो या दूर फर्क नहीं पड़ता मुझको 

Rahat Indori Shayri In Hindi

nazro se doori sah lenge hm 

bs hmko kabhi dil se door naa karna 

नज़रों से दूरी सह लेंगे हम 

बस हमको कभी दिल से दूर ना करना 

 

bina kuch kahe zindagi se chali gai vo 

dil hi to hai bhr gaya hoga hmse 

बिना कुछ कहे ज़िन्दगी से चली गई वो 

दिल ही तो है भर गया होगा हमसे 

 

jo paagalpn ki had ko naa

choo paaye vo ishq kaisa 

jo aasnu peekar muskuraa

naa sake vo aashik kaisa 

जो पागलपन की हद को ना छू पाए वो इश्क कैसा 

जो आंसू पीकर मुस्कुरा ना सके वो आशिक कैसा 

 

akele mein bhi ab hawaaon se

baate karne lagi hoon main

shayd ab paaglo wala 

ishq karne lagi hoon main

अकेले में भी अब हवाओं से बाते करने लगी हूँ मैं 

शायद अब पागलो वाला इश्क करने लगी हूँ मैं

 

naa sharaab ka shonk hai hmko

naa sigret ki talab

tere sache aashik hai

sirf hmko pyaar se matlab

ना शराब का शोंक है हमको ना सिगरेट की तलब 

तेरे सच्चे आशिक हैं सिर्फ हमको प्यार से मतलब 

maine jb kahaa usko

jaa so jaa mere bagair

uski neend ne bhi kah diya

nahi aana mujhko uske bagair

मैंने जब कहा उसको जा सो जा मेरे बगैर 

उसकी नींद ने भी कह दिया

नहीं आना मुझको उसके बगैर 

 

pyaar tumse ho gaya hmko 

lo ab tajurba ho gaya hmko 

is rog ki nahi koi dawaai hai 

ab ye pataa chl gaya hmko 

प्यार तुमसे हो गया हमको 

लो अब तजुर्बा हो गया हमको 

इस रोग की नहीं कोई दवाई है 

अब ये पता चल गया हमको 

 

saare sapne ab tumse hain 

saari ummedein tumse hain

lo maan liya hmne ye ab 

meri duniya tere dm se hai

सारे सपने अब तुमसे हैं 

साड़ी उम्मीदें तुमसे हैं 

लो मान लिया हमने अब ये 

मेरी दुनिया तेरे दम से है 

galti hui hai to sazaa deejiye

mohabbat mein hmko dagaa deejiye 

drd kitna bhi do sah lenge 

bs dil se naa apne dafaa keejiye 

गलती हुई है तो सज़ा दीजिये 

मोहब्बत में हमको दगा दीजिये

दर्द कितना भी दो सह लेंगे 

बस दिल से ना अपने दफा कीजिये  

 

fikar to karenge hi hm aapki 

mohabbat bnte bnte tum

jaan jo bn chuke ho 

फिकर तो करेंगे ही हम आपकी 

मोहब्बत बनते बनते तुम जान जो बन चुके हो 

 

pagalpn kaho yaa deewanapn,

aise hi hain hm 

kubool hain ya nahi bs ye btao tum

पागलपन कहो या दीवानापन, ऐसे ही हैं हम 

क़ुबूल हैं या नहीं बस ये बताओ तुम 

Rahat Indori Shayri In Hindi

kyaa love dose pilaa di hai

tumne mere dil ko 

hr kisi mein sirf

tujhko hi doondhna chahta hoon 

क्या लव डोज पिला दी है तुमने मेरे दिल को 

हर किसी में सिर्फ तुझको ही ढूंढना चाहता हूँ 

Rahat Indori Shayri In Hindi

tu baate kar paaye yaa

naa kar paaye mujhse 

mere hotho ki muskaan ke liye

to tera khayaal hi kaafi hai

तू बाते कर पाए या ना कर पाए मुझसे 

मेरे होठो की मुस्कान के लिए तो तेरा ख़याल ही काफी है 

 

pagal bn chuke hm or

banaane wali aap hain

milne ka bahaana dhoondhte hain

to uski vajah aap hain 

muskuraa dete ho aap

hmaari baato pr 

to hmaari baate laakh hain

vrna sb khaak hain 

पागल बन चुके हम और बनाने वाली आप हैं 

मिलने का बहाना ढूंढते हैं तो उसकी वजह आप हैं 

मुस्कुरा देते हो आप हमारी बातो पर 

तो हमारी बाते लाख है वरना सब ख़ाक हैं 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here